वेट मेजरमेंट के समय ध्यान रखती हैं आप ये चीज़ें?

by | Feb 24, 2020 | Fitness, Health | 0 comments

फिटनेस एक ऐसा टूल है जिसके बल पर आप एक खुशहाल ज़िंदगी जी सकते हैं। यही कारण है कि सभी लोग आज अच्छी सेहत के लिए प्रयासरत हैं। जिन लोगों का वेट अधिक है, वो उसे कम करना चाहते हैं और जिनका कम है वो उसे बढ़ाना चाहते हैं। बहुत कम ऐसे लोग हैं जो सिर्फ अपनी हेल्थ को मेंटेन करके चलते हैं। लेकिन फिर भी कोशिश तो आपको करनी ही होगी। वेट मेजरमेंट के समय आपके मन में काफी कुछ चलता है। जब आप वेट मशीन का प्रयोग करते हैं तो बहुत अलग-अलग प्रतिक्रिया नज़र आती है। कुछ लोग वेट लॉस करके खुश होते हैं, जबकि कुछ लोग बढ़ा हुआ वज़न देखकर दुखी। क्या आप जानते हैं कि अपना वेट लेते समय भी आपको बहुत सारी चीज़ों का ध्यान रखना चाहिए? जैसे आपको रोज़ वेट न लेकर वीकली वेट लेना चाहिए। इसके अलावा आपको एक डायरी मेंटेन करना चाहिए। जिससे आप अपने वेट को सही तरह से ट्रेक कर सकें। आइये हम आपको जानकारी देते हैं कि आपको वेट लेते समय और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

एक ही तरह के कपड़ों में लें अपना वेट मेजरमेंट

जब भी आप वेट मेजरमेंट लें, उस समय उन्ही कपड़ों का प्रयोग करें जो आपने पहली बार वेट लेते समय पहने थे। क्योंकि अलग तरह के कपड़े पहनने से आपके वज़न में अंतर आ सकता है। ज़ाहिर है कि इससे आपको असुविधा भी होगी। सही वज़न को मापने के लिए एक ही ड्रेस का इस्तेमाल करें। इससे आपको अपने वज़न का सही अंदाज़ा हो सकेगा।

सुबह के समय लें अपना वेट मेजरमेंट

जी हां वेट लेने के लिए सुबह का समय चुनें। ऐसा इसलिए क्योंकि सोने के दौरान आपके शरीर को पूरा आराम मिल जाता है। साथ ही सुबह के समय आपके शरीर में एक ताज़गी भी रहती है क्योंकि आपने कुछ खाया नहीं रहता है। इसलिए जब सुबह वेट मेजरमेंट लिया जाता है तो वो बिलकुल सही आता है। आपको कोशिश करना चाहिए कि आप उस वेट को मेंटेन करके चलें। अगर आप सुबह एक्सरसाइज़ करते हैं तो आपके लिए सुबह वज़न लेना ही सही होता है।

एक डायरी में नोट करते रहें अपना वेट

अपने वेट मेजरमेंट को ट्रैक करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप उसे एक डायरी में नोट करते रहें। डायरी में नोट करने से आपको वज़न की ट्रैकिंग में आसानी होगी। इससे आपको ये पता चलता रहेगा कि आपका कितना वज़न कम हुआ है और कितना और करना है। साथ ही ये डायरी आपके लिए एक रिकॉर्ड भी रहेगा। मान लीजिये आप किसी जिम जाती हैं या किसी डायटीशियन को वेट की जानकरी देना हो तो आपकी वेट डायरी बहुत काम आयेगी।

बार-बार न करें वेट मशीन का प्रयोग

कुछ लोगों की आदत होती है कि वो बार-बार अपना वेट मेजरमेंट लेते हैं। वेट मशीन का इतना प्रयोग अच्छा नहीं होता है। ऐसा भी देखा जाता है कि वेट मशीन का अधिक इस्तेमाल मशीन को खराब भी कर सकता है। इससे इसकी रीडिंग में बदलाव आ सकता है। एक बात का ध्यान और भी रखें कि वेट मशीन पर किसी और चीज़ का वेट न लें। उसे सिर्फ व्यक्ति के वज़न को मापने के लिए ही प्रयोग में लायें।

वीकली वज़न लेना ठीक होता है

जैसे हमने आपसे कहा कि आप रोज़-रोज़ अपना वेट मेजरमेंट न लें। इससे बेहतर है कि आप वीकली अपना वज़न लें। वीकली वेट लेने से आप अपने एक्सरसाइज़ के असर को जान सकेंगे। जबकि कुछ लोगों की आदत होती है कि वो रोज़ ही अपना वज़न लेते हैं। अगर आप वीकली वेट मेजरमेंट न लेना चाहें तो 15 दिन में भी एक बार ले सकते हैं।

वेट लॉस को लेकर दीवानापन न बढ़ाएं

देखिए वेट लॉस करना बुरा नहीं है। लेकिन इसके पीछे पागलों की तरह लगे रहना ज़रूर बुरा है। कुछ लोग तो वेइंग मशीन पर अपना बढ़ा वेट देखकर घबरा जाते हैं। फिर शुरू हो जाती है उनकी वेट लॉस जर्नी। तो वेट लॉस को टेंशन लेकर नहीं बल्कि एन्जॉय के साथ कम्पलीट कीजिये।

तो आप भी अपना वेट मेजरमेंट लेते समय इन सब बातों का ध्यान ज़रूर रखें। वेट लेते समय आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? इस विषय पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

फिटनेस से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ सेक्शन को ज़रूर देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए निरोग दर्पण के डाइट एंड फिटनेस सेक्शन को ज़रूर विज़िट करें।