ज़्यादा कैल्शियम कर सकता है आपको बीमार

by | Nov 8, 2019 | Health, Self Care | 0 comments

हेल्थ महिलाओं के लिए एक अमूल्य संपदा है। लेकिन फिर भी महिलाएं इस ओर ध्यान ही नहीं देती हैं। खैर ये तो एक बात हुई। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कैल्शियम की अधिकता आपको बीमार कर सकती है? क्या कहा आपको इस बारे में जानकारी नहीं है। वैसे तो कैल्शियम ब्रेन फंक्शन से लेकर हार्ट हेल्थ तक अच्छा माना जाता है। लेकिन इसकी अधिकता इन्ही अंगों के लिए समस्या भी खड़ी कर देती है। जी हां हुआ ना आपको आश्चर्य! कैल्शियम वैसे तो महिलाओं के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। इसकी कमी से महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियां भी हो जाती हैं। लेकिन आपको बता दें कि इसकी अधिकता से भी ये समस्याएं हो सकती हैं। कैल्शियम की अधिकता को हाइपरकैल्सिमिया नाम से जाना जाता है। इस तत्व की अधिकता किडनी हेल्थ को भी प्रभावित करती है। आइये इस बारे में आपको और जानकारी देते हैं।

कैल्शियम ज़रूरी है महिलाओं के लिए

आप तो ये जानती ही हैं कि कैल्शियम आपके लिए कितना ज़रूरी है। हडियों की मज़बूती के लिए डॉक्टर महिलाओं को विशेष रूप से कैल्शियम खाने की सलाह देते हैं। लेकिन आपको इस बारे में भी ध्यान रखना है कि आपके शरीर में इसकी अधिकता न हो जाये।

मिल्क प्रोडक्ट्स में पाया जाता है अधिक कैल्शियम

इस बात की जानकारी तो आपको होगी ही कि मिल्क प्रोडक्ट्स में काफी कैल्शियम पाया जाता है। इससे आपके शरीर में कैल्शियम की पूर्ती होती है। इसलिए महिलाओं को सलाह दी जाती है कि वो अधिक से अधिक मिल्क प्रोडक्ट का सेवन करें।

ब्रेन हेल्थ पर असर डाल सकती है कैल्शियम की अधिकता

आपको ये सुनकर आश्चर्य हुआ ना? जी हां कैल्शियम का शरीर में ज़्यादा होना ब्रेन हेल्थ को प्रभावित करता है। इससे आपके सोचने की क्षमता पर प्रभाव होता है। इससे व्यक्ति भ्रम जैसी समस्या का शिकार हो सकता है और कोमा में भी जा सकता है। ब्रेन हेल्थ को बनाये रखने के लिए कैल्शियम को अधिक न होने दें। इसलिए आप एक बार कैल्शियम टेस्ट को ज़रूर करवा लें। इससे आपकी ब्रेन हेल्थ बनी रहेगी और आप सुरक्षित रहेंगे।

किडनी हेल्थ हो सकती है प्रभावित

कैल्शियम का अधिक होना किडनी हेल्थ को भी प्रभावित करता है। इससे किडनी हेल्थ बिगड़ती है और आपको स्टोन की समस्या हो सकती है। इसके कारण आपके शरीर में अनेक बीमारियां पैदा होती हैं। इससे किडनी हेल्थ इतनी खराब हो सकती है कि किडनी फेल भी हो सकती है। क्योंकि कैल्शियम ज़्यादा होने से किडनी के काम प्रभावित होते हैं। इसका नुकसान सारे शरीर को उठाना पड़ता है।

हाइपरकैल्सिमिया का बढ़ता है खतरा

शरीर में कैल्शियम की अधिकता हाइपरकैल्सिमिया के ख़तरे को बढ़ाती है। हाइपरकैल्सिमिया होने का अर्थ है शरीर में कैल्शियम का ज़रूरत से अधिक बढ़ना। अगर आप हाइपरकैल्सिमिया से दूर रहना चाहती हैं तो न तो कैल्शियम को ज़्यादा न होने दें। इसके लिए आप समय-समय पर कुछ ज़रूरी उपचार भी करवाती रहिये। इससे आप किसी भी बीमारी के संभावित ख़तरे से बची रहेंगी।

हार्ट हेल्थ को भी प्रभावित करती है कैल्शियम की अधिकता

आपको बता दें कि शरीर में कैल्शियम के ज़्यादा होने से आपकी हार्ट हेल्थ पर भी असर होता है। कैल्शियम की ज़्यादा मात्रा आपके दिल की धमनियों को प्रभावित करती है। इससे आपकी हार्ट हेल्थ पर बुरा असर होता है। यहां तक की हार्ट ब्लॉकेज का खतरा भी बढ़ जाता है। इसलिए हार्ट हेल्थ को बनाये रखिये और कैल्शियम को संतुलित रखिये।

इस बारे में जानकर आपको आश्चर्य तो होगा। लेकिन सच्चाई यही है। इसलिए ज़रूरी है कि इस संबंध में आप अपने डॉक्टर से सही सलाह लें और स्वस्थ बने रहें।

कैल्शियम के बढ़ने पर किस तरह की समस्या हो सकती है? इस विषय पर आधारित पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

सेल्फ केयर से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ सेक्शन को ज़रूर देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए निरोग दर्पण के सेल्फ केयर सेक्शन को ज़रूर विज़िट करें।