जानिए वैजाइनल ड्राईनेस से होने वाली असुविधा और उसे दूर करने के आसान उपाय

by | Aug 5, 2020 | Health, Self Care | 0 comments

महिलाओं की सेल्फ केयर जुड़ी हुई है उनकी इंटिमेट हाइजीन के साथ। लेकिन महिलाएं इस बात का इतना ध्यान नहीं रखती हैं। तभी तो वो अनेक परेशानियों का सामना करती हैं। अब जैसे एक समस्या वैजाइनल ड्राईनेस से जुड़ी हुई है। इसके कारण महिलाएं परेशान रहती हैं। इसके अनेक कारण हो सकते हैं। लेकिन बिना परेशान हुए आप इस समस्या को आसानी से दूर कर सकती हैं। इसके लिए प्रोबियोटिक्स के अलावा विटामिन का प्रयोग आपकी वैजाइनल ड्राईनेस को बहुत हद तक कम कर देता है। साथ ही ऑलिव ऑयल और अलसी भी एक अच्छी रेमेडी साबित हो सकते हैं। ये सब आप आसानी से अपने घर में प्रयोग कर सकती हैं। क्योंकि महिलाएं इस तरह की बात करने में हिचकिचाती हैं, इसलिए ज़रूरी है कि खुलकर इस विषय पर बात की जा सके। आइये इस बारे में आपको और जानकरी दी जाए।

एक साइलेंट समस्या बन जाती है वैजाइनल ड्राईनेस

हमने कहा ना आपसे कि कोई भी महिला वैजाइनल ड्राईनेस पर खुलकर चर्चा नहीं करती है। इस समस्या के साथ अंदर ही अंदर घुटना उसकी नियति बन जाती है। लेकिन इससे समस्या का अंत ऐसे तो होता नहीं, बल्कि समस्या और बढ़ जाती है। वैजाइनल ड्राईनेस कोई शर्म की बात तो है नहीं, ये तो एक परिस्थिति है। लेकिन इसका निदान होना भी तो ज़रुरी है। कोशिश करें कि इस विषय पर आप अन्य महिलाओं के साथ बात करें। हो सकता है जो समस्या आपको है वो किसी और महिला को भी हो। साथ मिलकर आप ऐसी ही अनेक महिलाओं की समस्या को दूर कर सकती हैं।

वैजाइनल ड्राईनेस के कारण यौन इच्छा में भी आती है कमी

अब आप यौन संबंधों को ही ले लीजिए। जी हां वैजाइनल ड्राईनेस के कारण महिलाएं यौन संबंधों से दूर होने लगती हैं। साथ ही वैजाइनल ड्राईनेस से निजी अंगों पर चोट का खतरा भी बढ़ जाता है। क्योंकि कोमल जगह पर होने वाला घर्षण आपको असहनीय पीड़ा दे सकता है। ऐसे में अक्सर कपल ल्युब्रिकेन्ट का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन ये एक हद तक ही आपकी समस्या को हल करता है। इसलिए जब भी आप वैजाइनल ड्राईनेस का प्रयोग करें, जल्द से डॉक्टर से सलाह लेकर या कुछ आसान तरीकों से इस समस्या को दूर करने का प्रयास करें।

विटामिन का प्रॉपर यूज़ बहुत ज़रुरी है

अगर महिलाएं अपनी डाइट को ही सही तरीके से लें तो उनकी बहुत सारी परेशानियां वैसे ही दूर हो जाएंगी। जी हां विटामिन का प्रयोग भी वैजाइनल ड्राईनेस को काफी कम कर देता है। विटामिन में आपको हर तरह के विटामिन का प्रयोग करना चाहिए। इससे आपको पर्याप्त पोषण मिलता है। जब विटामिन की कमी शरीर में होने लगती है तो आपको अनेक परेशानियां होती हैं और वैजाइनल ड्राईनेस भी ऐसी एक समस्या है।

प्रोबायोटिक्स का प्रयोग करें

रोज़मर्रा में प्रयोग होने वाली चीजों में प्रोबायोटिक्स मौजूद होता है। ये चीजें सामान्यतः डेयरी प्रोडक्ट होते हैं। आप तो जानते हैं कि दूध और दही में लैक्टोबेसिलस नाम के बैक्टेरिया पाए जाते हैं। एक शोध के अनुसार ये बैक्टीरिया महिलाओं को यौनी संक्रमण से दूर रखते हैं। साथ ही ये प्रोबायोटिक्स प्राकृतिक यौनी स्त्राव को भी बढ़ावा देते हैं। इस तरह वैजाइनल ड्राईनेस की समस्या भी दूर हो जाती है। तो आप भी अधिक से अधिक मात्रा में प्रोबायोटिक्स का प्रयोग ज़रूर करें।

अलसी है सबसे कारगर एलिमेंट

आप अलसी का प्रयोग कीजिये। जी हां अलसी में फाइटो एस्ट्रोजेन और ओमेगा 3 फैटी एसिड पाए जाते हैं। इससे एस्ट्रोजन हॉर्मोन को बढ़ावा मिलता है। जिससे प्राकृतिक रूप से वैजाइनल ड्राईनेस खत्म होने लगती है। इसलिए आप अलसी का प्रयोग ज़रूर कीजिये।

ऑलिव ऑयल नेचरल ल्युब्रिकेंट का काम करता है

जैसे नारियल का तेल नेचरल ल्यूब्रिकेंट का काम करता है वैसे ही ऑलिव ऑयल भी करता है। वैजाइनल ड्राईनेस होने पर आप ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। आप चाहें तो ऑलिव ऑयल और नारियल के तेल को मिलाकर भी प्रयोग कर सकती हैं।

तो इन सब तरीकों से आप यौनी के सूखेपन को दूर कर सकती हैं।

वैजाइनल ड्राईनेस दूर करने के तरीके पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

सेल्फ केयर से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ सेक्शन को देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए निरोग दर्पण के गायनोकॉलोजिकल प्रॉब्लम और लव एंड रिलेशनशिप सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।