पेनफुल इंटरकोर्स को आसान बनाइये वैजाइनल लुब्रिकेशन से

by | Jan 20, 2020 | Health, Love & Life, Self Care | 0 comments

सेल्फ केयर को लेकर महिलाओं की सोच अक्सर पूर्ण नहीं होती है। कहने का अर्थ तो आप समझ ही गये होंगे। सेल्फ केयर में पता नहीं क्यों महिलाएं अपने परिवार, बच्चों, पतिदेव को भी शामिल कर लेती हैं। जबकि सच्चाई ये है कि इस पक्ष में उन्हें सिर्फ और सिर्फ अपने बारे में सोचना चाहिए। खुद को सुरक्षित और स्वस्थ रखकर ही महिलाएं अपने परिवार का ध्यान रख सकती हैं। चलिए इन बातों को तो हम दर किनार करते हैं। अब बात को थोड़ा महिलाओं की निजी ज़िंदगी की ओर मोड़ते हैं। अंतरंग संबंधों और वैजाइनल हेल्थ के बारे में महिलाएं अक्सर बात करने में झिझकती हैं। लेकिन वो ये भूल जाती हैं कि उन्हें इस विषय से जुड़ी बातों को छुपाना नहीं चाहिए। जैसे बात यदि वैजाइनल लुब्रिकेशन की हो तो इस संदर्भ में महिलाएं ज़्यादा नहीं सोचती। लेकिन आपको बता दें कि वैजाइनल ड्राईनेस भी अनेक परेशानियों का कारण बनती है। सेफ सेक्स के लिए भी लुब्रिकेशन बना रहना ज़रूरी होता है। इसके लिए वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट प्रयोग किये जा सकते हैं। इसके अलावा ऑयल बेस्ड लुब्रिकेंट और सिलिकॉन बेस्ड लुब्रिकेंट भी प्रयोग किये जाते हैं। नेचरल लुब्रिकेंट की बात हो तो कोकोनट ऑयल को भी यूज़ किया जा सकता है। आइये इस बारे में आपके भीतर छुपी कुछ बातों को इस जानकारी के द्वारा जाना जाये।

वैजाइनल लुब्रिकेशन के बारे में सोचती नहीं हैं महिलाएं

जैसा हमने कहा कि महिलाएं इस बारे में ज़्यादा सोचती नहीं हैं। वैजाइनल लुब्रिकेशन एक प्राकृतिक क्रिया है, जो अक्सर महिलाओं में सेक्स के दौरान होती है। वैसे तो महिलाओं को अपने निजी अंग को सुरक्षित रखने के लिए अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ती है। प्राकृतिक रूप से ही इस कार्य में उनका सेल्फ क्लीनिंग सिस्टम सक्रिय रहता है। लेकिन फिर भी सेक्स के बाद उन्हें अपने हाइजीन का ख़ास ख्याल रखना चाहिए।

कब होती है वैजाइनल लुब्रिकेशन की आवश्यकता?

ये तो आप जानती ही हैं कि सेक्स के दौरान वैजाइनल लुब्रिकेशन प्राकृतिक रूप से होता है। लेकिन अनेक बार इसकी कमी परेशानियां खड़ी कर देती हैं। वैजाइनल लुब्रिकेशन की कमी मुख्य रूप से बढ़ती उम्र में परेशान करती है। इसके अलावा कई बार सेक्स की शुरुआत में भी कुछ महिलाओं को ये समस्या हो सकती है। अनेक बार दवाइयों का दुष्प्रभाव या मेनोपॉज या फिर कामउत्तेजना की कमी भी वैजाइनल ड्राईनेस की वजह बनती है। इसके लिए आर्टिफीशियल वैजाइनल लुब्रिकेशन की ज़रूरत होती है।

सेफ सेक्स के लिए ज़रूरी है लुब्रिकेंट का इस्तेमाल

अक्सर महिलाएं वैजाइनल लुब्रिकेशन की कमी के चलते सेक्स में बहुत अधिक असहजता का अनुभव करती है। इसके कारण वे न तो सेक्स संबंधों का आनंद ले पाती हैं न अपने पार्टनर को खुश रख पाती हैं। इसलिए यदि सेफ सेक्स का आनंद लेना है तो वैजाइनल लुब्रिकेशन पर ध्यान देना होगा। सेफ सेक्स से हमारा तात्पर्य है उस संभोग क्रिया से है जिसमें दोनों पार्टनर संतुष्टि का अनुभव करें। इसलिए बिना वैजाइनल लुब्रिकेशन के सेफ सेक्स की कल्पना भी नहीं की जा सकती है।

वैजाइनल ड्राईनेस नाज़ुक अंगों पर ज़ख्म दे सकती है

यदि सेक्स के समय वैजाइनल ड्राईनेस बढ़ती है तो आपके निजी अंगों को इससे क्षति भी पहुंच सकती है। कई बार वैजाइनल ड्राईनेस के कारण महिला के गुप्तांग में से ब्लीडिंग भी होती है। इसी के साथ वैजाइनल ड्राईनेस इचिंग की समस्या भी उत्पन्न करती है।

वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट का यूज़ करें

बाज़ार में वैजाइनल ड्राईनेस को दूर करने के लिए अनेक तरह के लुब्रिकेंट मिलते हैं। इसमें वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट को आप आसानी से प्रयोग कर सकते हैं। आपको बता दें कि वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट आपको सेक्स के दौरान किसी तरह की समस्या नहीं होने देता। साथ ही इससे आपको किसी तरह का नुकसान भी नहीं होता है। वॉटर बेस्ड लुब्रिकेंट के अलावा आप ऑयल लुब्रिकेंट भी यूज़ कर सकती हैं। विशेषकर इंटरकोर्स के दौरान इनका प्रयोग महिलाओं के लिए काफी सुविधाजनक होता है।

कोकोनट ऑयल है सबसे बेस्ट नेचरल लुब्रिकेंट

यदि आप नेचरल लुब्रिकेंट का यूज़ करना चाहती हैं तो कोकोनट ऑयल का प्रयोग करें। जी हां कोकोनट ऑयल सबसे बेस्ट प्राकृतिक लुब्रिकेंट है। इसलिए आप बिना किसी परेशानी के कोकोनट ऑयल का प्रयोग कर सकते हैं। इसके अलावा भी ऐसे बहुत सारे नेचरल लुब्रिकेंट्स हैं जो आप प्रयोग कर सकते हैं। इनका लाभ ये है कि इससे कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होते हैं और आपको बहुत लाभ भी मिल जाता है।

फीमेल लुब्रिकेंट पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

सेल्फ केयर से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए हमारे हेल्थ और लव एंड लाइफ सेक्शन को भी ज़रूर देखें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए निरोग दर्पण के लव एंड रिलेशनशिप सेक्शन को भी विज़िट करना न भूलें।