होली पूजा के लिए अपनी राशि के अनुसार करें ये उपाय, होंगे ये लाभ

by | Mar 5, 2020 | Horoscope, Lifestyle | 0 comments

आपकी कुंडली में हॉरोस्कोप के अनुसार हर ग्रह की स्थिति बदलती रहती है। इस पर ही आपके जीवन की विभिन्न घटनाएं निर्भर करती हैं। कभी आपको बहुत सकारात्मक प्रतिफल मिलते हैं और कभी बहुत अधिक नकारात्मक। लेकिन ऐसी परिस्थिति में धैर्य और विश्वास के साथ आपका रहना बहुत ज़रूरी हो जाता है। उसी प्रकार हिन्दू धर्म के अनुसार ऐसे बहुत-से त्यौहार मनाये जाते हैं जिसमें हमारी ग्रह दशा भी बदलती है। अब जैसे आप होली की पूजा को ही ले लीजिये। आप में से बहुत सारे लोग सुख और समृद्धि के लिए होलिका की पूजा करते ही होंगे। लेकिन क्या आप जानते हैं कि राशि के अनुसार होली पूजा करने से भी बहुत लाभ हो सकते हैं। जी हां राशि के अनुसार आप होली के पूजा करते हैं तो आपके जीवन में बहुत सारे बदलाव आ सकते हैं। आइये जानते हैं कि विभिन्न राशियों के लिए होली पूजा कैसे की जानी चाहिए? और साथ ही आपको होली पूजा और होलिका दहन के मुहूर्त की भी जानकारी देते हैं।

घर की सुख-शांति के लिए करते हैं होली की पूजा

हिन्दू धर्म में प्राचीन समय से ही होली पूजा का विधान है। ऐसा माना जाता है कि होली की पूजा करने से घर में खुशियां बनी रहती हैं। हर समाज में होली पूजा की अलग-अलग मान्यताएं हैं। कोई ठंडी होली की पूजा करता है और कोई जलती होली की। पर ज़्यादातर लोग होली जलने के पहले ही उसकी पूजा करते हैं। होली पूजा के द्वारा माता होलिका से घर-परिवार के सुख की कामना की जाती है।

महिलाओं के अलावा पुरुष भी करते हैं होली की पूजा

यदि होली की पूजा पूरे परिवार सहित की जाये तो ये बहुत अच्छा होता है। लेकिन अधिकतर घरों में महिलाएं ही होलिका माता की पूजा करती हैं। लेकिन ऐसा कोई विधान नहीं है कि घर के पुरुष होली की पूजा नहीं कर सकते। बल्कि जोड़े के साथ पूजा करना तो और भी अच्छा होता है। इसके अलावा परिवार के अन्य सदस्य भी होली की पूजा में सम्मिलित हो सकते हैं।

मिलता है होलिका माता का आशीर्वाद

आप सब तो होलिका की कहानी तो जानते ही होंगे। कैसे ईश्वर की सच्ची आराधना अपने भक्त को हर संकट से बचाती है? जैसे अग्नि में होलिका की गोद में बैठकर भक्त प्रहलाद का बाल भी बांका नहीं हुआ। उसी तरह मन के सभी बुरे विचारों को और हर तरह की नकारात्मक को होली में दहन करना ही इस पर्व का उद्देश्य है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन विधि के साथ पूजा करने से होलिका माता का आशीर्वाद मिलता है। जिससे सभी तरह की कठिनाइयां दूर होती हैं। यही नहीं जानकारों के अनुसार होलिका दहन की भस्म भी बहुत पवित्र मानी जाती है। यही नहीं होलिका दहन के समय उसमें पकाए गए अनाज का सेवन बहुत अच्छा माना जाता है। इस अनाज को घर में रखने से मां अन्नपूर्णा की विशेष कृपा बनी रहती है।

होलिका दहन का मुहूर्त

वर्ष 20-20 में होलिका दहन का मुहूर्त इस प्रकार होगा।

9 मार्च को होलिका दहन का मुहूर्त प्रदोष काल से मध्यरात्रि तक है। 9 मार्च सोमवार को सूर्यास्त के बाद से 11 बजकर 52 मिनिट रात तक होलिका दहन का शुभ मुहूर्त है।

मेष और वृश्चिक राशि वाले ऐसे करें होली पूजा

इन राशियों के लोग होलिका की पूजा करते समय गुड़ से आहुति दें। इससे उन्हें बहुत अधिक लाभ होगा।

वृषभ राशि वाले ऐसे दें आहुति

जब भी वृषभ राशि वाले होलिका की पूजा करें वो शक्कर से आहुति दें। इससे उनके सारे कष्ट दूर होंगे।

मिथुन और कन्या राशि वाले ऐसे करें पूजा

इस राशि के जातक कपूर से होली को आहुति दें। इससे उन्हें विशेष कृपा मिलेगी।

कर्क राशि वाले इस तरह दें आहुति

अगर अप अपने हर काम को गति देना चाहते हैं तो आपको लोबान से होली की आहुति देनी होगी।

सिंह राशि पर इस तरह होलिका की पूजा

इस राशि के जातक होलिका को गुड़ से आहुति दें। इससे उनकी परेशानियां दूर होंगी।

तुला राशि वाले ऐसे करें होलिका माता को प्रसन्न

कार्य की सफलता के लिए तुला राशि वाले कपूर से आहुति दें।

धनु और मीन राशि वाले इस तरह होलिका की पूजा करें

इस राशि के जातक जौ और चने को आहुति में प्रयोग करें। इससे उन्हें हर कार्य में सफलता मिलेगी।

मकर और कुंभ राशि वाले ऐसे करें होली पूजा

इस राशि के जातक तिल से होलिका को आहुति दें। विशेष कृपा बनी रहेगी। तो अपनी राशि के अनुसार आप भी होलिका की पूजा करके उनका आशीर्वाद पायें।

राशि के अनुसार होली की पूजा पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इस शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए हमारे हॉरोस्कोप सेक्शन को ज़रूर देखें। इस बारे में आप और अधिक जानकारी चाहते हैं तो निरोग दर्पण के एस्ट्रोलॉजी सेक्शन को विज़िट करना न भूलें।