Self Obsessed तो नहीं आपका पार्टनर!

by | Dec 14, 2019 | Love & Life, Relationships | 0 comments

रिलेशनशिप्स में कई बार ऐसे मुकाम आ जाते हैं जो आपको परेशान कर देते हैं। आप रिश्तों को समझने में असफल होने लगते हैं। ऐसा तब होता है जब आप या आपका पार्टनर Self Obsessed हों। ऐसे में रिश्तों में तनाव होना लाज़मी है। क्योंकि ये मानसिकता इंसान को सेल्फिश भी बना देती है। ऐसे लोग हमेशा लाइमलाइट में रहना चाहते हैं। साथ ही ये लोग सेल्फ सेंटर्ड भी होते हैं। इससे रिश्ते में उलझने बढ़ती हैं। अगर कोई अपने पार्टनर के बीच अधिक शो ऑफ करता है तो ये रिलेशनशिप के लिए अच्छा संकेत नहीं। आइये इस बारे में आपको और जानकारी दें।

क्या होता है सेल्फ ऑब्सेस्ड Self Obsessed व्यक्तिॽ

आप ऐसे व्यक्ति से कभी न कभी मिले ज़रूर होंगे। सेल्फ ऑब्सेस्ड मतलब आत्ममुग्ध व्यक्ति। जी हां ये एक ऐसा व्यक्ति होता है जिसे अपने अलावा कुछ और दिखाई नहीं देता। सेल्फ ऑब्सेस्ड लोग अपने आगे बाकी लोगों को कुछ नहीं समझते। वो अपने मुंह से अपनी ही तारीफ करते रहते हैं। सेल्फ ऑब्सेस्ड व्यक्ति के सामने एक इंसान अपने आपको असहाय पाता है।

मुश्किल रिलेशन होता है सेल्फ ऑब्सेस्ड Self Obsessed व्यक्ति के साथ

यदि आप किसी Self Obsessed व्यक्ति के साथ रिलेशनशिप में हैं तो आपके लिए मुसीबत ही है। क्योंकि ऐसे किसी व्यक्ति के साथ एक सफ़र में आगे बढ़ना मुश्किल होता है। सेल्फ ऑब्सेस्ड व्यक्ति को इस बात का भी बोध नहीं रहता कि वो क्या कर रहा हैॽ वह केवल अपने लिए जीना जानता है।

सेल्फ सेंटर्ड होते हैं ऐसे लोग

जो लोग Self Obsessed व्यक्ति के साथ होते हैं वो हमेशा परेशान रहते हैं। क्योंकि ऐसे लोग सेल्फ सेंटर्ड होते हैं। मतलब इन्हें केवल खुद से मतलब होता है। यहां तक कि ये लोग अपने पार्टनर के बारे में भी नहीं सोचते हैं। सेल्फ सेंटर्ड लोगों की दुनिया इन्ही से शुरू होती है और इन्ही पर खत्म होती है। ऐसे लोगों के साथ एक रिश्ते को चलाने में भी मुश्किल होती है।

लाइमलाइट में रहना पसंद करते हैं

ऐसा कौन होगा जिसे लाइमलाइट में रहना अच्छा नहीं लगता है। लेकिन उसकी भी एक सीमा होती है। हमेशा लाइमलाइट में रहने वाला व्यक्ति सेल्फ Self Obsessed हो ही जाता है। अगर आपके पार्टनर को भी लाइमलाइट में रहने का शौक है तो ये आपके लिए अच्छा संकेत नहीं है। इससे रिश्ते में दूरियां बढ़ना लाज़मी है।

कहीं आपके पार्टनर सेल्फिश तो नहीं!

ये कोई बड़ी बात नहीं है कि आप किसी सेल्फिश पार्टनर का बोझ उठा रहे हों। अपने स्वार्थ के लिए जीने वाले लोगों की कमी नहीं है। लेकिन यदि इतने करीबी रिश्ते में भी आप सेल्फिश हो जाएं तो सोचने की बात है। सेल्फिश पार्टनर केवल अपने बारे में ही सोचते हैं। उन्हें इस बात का कोई फर्क नहीं पड़ता कि उनके साथी पर इसका क्या असर हो सकता है। इस तरह के लोग वही करते हैं जो सिर्फ उनके लिए ही सही है।

सेल्फ सेंटर्ड होना रिश्तों को उलझाता है

आप किसी ऐसे व्यक्ति को डेट कर रहे हैं जो सेल्फ सेंटर्ड है तो आपके लिए समस्या हो सकती है। सेल्फ सेंटर्ड व्यक्ति अपने आगे सभी को हीन समझते हैं। इसमें उनका पार्टनर भी शामिल होता है। सेल्फ सेंटर्ड होने से इंसान की दुनिया सिमट जाती है। फिर उसे खुद के अलावा और कोई नज़र नहीं आता है। मतलब वो और अधिक Self Obsessed बन जाते हैं।

अधिक शो ऑफ करते हैं Self Obsessed पार्टनर

आपने कई बार देखा होगा कि कुछ लोग रिलेशनशिप में भी शो ऑफ करने से नहीं चूकते। अपने पार्टनर के साथ भी उनका शो ऑफ एटीट्यूड नहीं जाता है। शो ऑफ करके वो अपने रुतबे को बढ़ाना चाहते हैं। लेकिन हर जगह ऐसा करना उचित नहीं होता है। आपके लाइफ पार्टनर के साथ आपको थोड़ा स्पेस तो देना ही होगा।

यदि आपका पार्टनर भी Self Obsessed है तो आपको भी अपने रिश्ते में कुछ सावधानियां रखनी चाहिए। इस बारे में आपको अपने साथी के साथ भी बातचीत करना चाहिए। संभव है इससे समस्याएं सुलझ जाएं।

Self Obsessed पार्टनर पर आधारित ये पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे शेयर करें। कमेंट सेक्शन में अपने विचार लिखें और पोस्ट को रेटिंग देना न भूलें।

रिलेशनशिप्स से जुड़ी अन्य जानकारियों के लिए हमारे लव एंड लाइफ सेक्शन को भी ज़रूर देखें। इसी तरह की जानकारी के लिए निरोग दर्पण के लव एंड रिलेशनशिप सेक्शन को भी ज़रूर विज़िट करें।